Enjoy Banking on the Go.
Download Mobile Banking App

Download
आवर्ती जमा

आज की छोटी बचत
कल की बड़ी खुशी के लिए

बड़ौदा आवर्ती जमा खाता

आवर्ती जमा

आवर्ती जमा खाते में प्रत्येक माह थोड़ा निवेश करें और अपनी बचत को बढ़ाएं.

आवर्ती जमा या आरडी खाते में आप नियत अवधि तक निर्धारित रकम मासिक रूप से जमा करते हैं और खाते की बकाया शेष राशि पर ब्याज प्राप्त करते है. आवर्ती जमाराशि की परिपक्वता पर आप को मूलधन और ब्याज प्राप्त होगा.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा आवर्ती जमा योजनाओं पर आकर्षक ब्याज दर ऑफर करता है.

  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा के साथ आवर्ती जमा खाता खोलकर नियमित बचत की आदत डालें. आवर्ती जमा खातों की मासिक किस्तें पूरे वर्ष में निवेशकों को कुछ धनराशि अलग रखने के लिये प्रोत्साहित करती हैं.
  • आपके निवेशों पर किसी भी अन्य वित्तीय लिखतों से बेहतर लाभ मिलना ही आवर्ती जमा राशियों का प्रमुख लाभ है. बचत खाते की तुलना में आवर्ती जमा योजनाओं में अधिक ब्याज मिलता है.
  • आप अपनी वित्तीय समझ और निवेश लक्ष्यों के अनुसार आप विभिन्न आवर्ती जमा खातों में से किसी का चयन कर सकते हैं. आप अपनी हम परिवर्तनीय मूल राशि, मासिक किस्त और अवधि के साथ आवर्ती जमा योजनाएं ऑफर करते है. हमारे आवर्ती जमा खातों की अवधि 6 माह से 120 माह तक है. आवर्ती जमा खातों में निवेश करने की कोई उच्चतम सीमा नहीं है.
  • इसके अतिरिक्त, तत्काल वित्तीय आवश्यकता के समय आपकी सहायता के लिए बैंक ऑफ़ बड़ौदा आवर्ती जमा राशि के 95% तक ऋण और ओवरड्राफ्ट की सुविधा प्रदान करता है.
  • सभी व्यक्ति बैंक ऑफ़ बड़ौदा में आवर्ती जमा खाता खोल सकते हैं. ग्रामीण और अर्द्ध शहरी शाखाओं में आवर्ती जमा खाता खोलने के लिए रु. 50 और रु. 50 के गुणकों में राशि जमा की जाएगी. शहरी और महानगरीय शाखाओं में आवर्ती जमा खातों में न्यूनतम जमा 100/- एवं 100/- के गुणकों में होगी. आवर्ती खातों में मासिक जमा की कोई उच्चतम सीमा नहीं है.
  • आवर्ती जमा खातों की अवधि या समय सीमा 6 माह से 120 माह की है, जिसे खाता खोलने के दौरान नियत किया जाएगा. तथापि पैसों की आवश्यकता होने पर आप आवर्ती जमा खाते से समयपूर्व आहरण का भी विकल्प चुन सकते हैं. आवर्ती खाते को समय पूर्व आहरित करने पर दण्डस्वरूप कटौती की जाएगी.
  • हम आवर्ती जमाराशियों पर आकर्षक ब्याज दर ऑफ़र करते हैं, जिसका निर्धारण परिपक्वता अवधि या जमाराशियों की अवधि पर निर्धारित होता है. आवर्ती जमा खातों पर ब्याज की गणना तिमाही आधार पर की जाएगी और आवर्ती जमाराशि की परिपक्वता पर इसका भुगतान किया जाएगा.
  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा में आवर्ती जमा खाता पर नामांकन सुविधा उपलब्ध है.

पात्रता:-

सभी व्यक्ति और गैर-व्यक्ति

जमा राशि

न्यूनतम

  • रु. 50 और रु. 50 के गुणकों में (ग्रामीण और अर्द्ध-शहरी शाखा)
  • रु. 100 और रु. 100 के गुणकों में (शहरी और महानगरीय शाखा)

अधिकतम

  • कोई उच्चतर सीमा नहीं

जमाराशि की अवधि

  • न्यूनतम: 6 माह
  • अधिकतम : 120 माह

किस्त की आवृत्ति

मासिक

ब्याज दर

जमाराशियों की परिपक्वता अवधि के अनुसार

*ब्याज का भुगतान

तिमाही आधार पर ब्याज की गणना की जाएगी और परिपक्वता पर इसका भुगतान किया जाएगा.

समय-पूर्व समाप्ति

लागू ब्याज दर या संविदागत मूल्य, जो भी कम हो, से 1% कम की दर पर ब्याज का भुगतान किया जाएगा.

ऋण/ओवरड्राफ्ट की उपलब्धता

समय-समय पर जारी बैंक के दिशानिर्देशों के अनुसार ब्याज दर पर बकाया राशि के 95% तक ऋण/ ओवरड्राफ्ट सुविधा की अनुमति है.

जमाराशियों की परिपक्वता

अंतिम किस्त के भुगतान के एक माह पश्चात या अदायगी की तारीख, जो भी बाद में हो

किस्त के भुगतान में विलंब पर दण्ड

अवधि से निरपेक्ष रहते हुए प्रति माह रु.100/- पर रु.1/- की एकसमान दर

वरिष्ठ नागरिकों को ब्याज दर:

केवल रु. 1 करोड़ से कम की जमाराशियों के लिए 0.50% की दर से अतिरिक्त ब्याज देय होगा.

किस्तों का भुगतान

किसी भी कैलेंडर माह के लिए किस्त का भुगतान उस माह के अंतिम कार्य दिवस से पहले या उसी दिन करना है. किसी किस्त भुगतान में हुए विलंब के लिए पेनाल्टी लगाया जाएगा जो कि वर्तमान में प्रत्येक रु. 100 प्रति माह के लिए रु. 1.00 + जीएसटी है, ऐसे दण्ड की गणना के प्रयोजन से दिनों की संख्या को पूरे माह के रूप में माना जाएगा.

कैलेंडर माह की अवधि के दौरान भुगतान की गई किस्त को समय पर किया गया भुगतान माना जाएगा.

वैकल्पिक तौर पर जमाकर्ता परिपक्वता तक खाते को बिना प्रचलन के जारी रख सकते हैं (अर्थात:- बकाया किस्त की राशि एवं दंडात्मक ब्याज का भुगतान किए बिना). इन मामलों में ब्याज की गणना के प्रयोजन से जमाराशियों को यथाशक्ति जमा योजना के समान माना जाएगा.

नामांकन सुविधा :- नामांकन सुविधा उपलब्ध होगी

स्त्रोत पर आय कर कटौती:- आयकर नियमों के अनुसार टीडीएस कटौती की जाएगी. यदि ग्राहक (जैसा भी लागू हो), 15जी/15 एच फार्म प्रस्तुत करता है, तो टीडीएस कटौती नहीं की जाएगी.

परिपक्वता पर या उससे पहले ब्याज की गणना की पद्धति:

घरेलू सावधि जमा (1वर्ष से कम अवधि वाले) के लिए, जहां अंतिम तिमाही अधूरी रह गई है, ब्याज की गणना पूरे तिमाही के लिए वास्तविक दिनों की संख्या के आधार पर होगी जो कि 365/366 दिनों के अनुसार होगी. ऐसी जमाराशि पर गणना पूर्ण हुई तिमाहियों और दिनों के अनुसार में होना चाहिए.

टीडीएस प्रमाणपत्र :- सभी ग्राहकों को टीडीएस प्रमाणपत्र दिया जायगा.

जमाराशियों के एवज में अग्रिम: यह सुविधा एकल नाम से नाबालिग और हिन्दू अविभक्त परिवार के लिए उपलब्ध नहीं है. जमाराशियों के एवज में अग्रिमों के लिए, यदि जमाकर्ता 90 दिनों के भीतर खाते का निपटान नहीं करता है, तो बैंक को उसकी सावधि जमा से ओवरड्राफ्ट खाते के निपटान का अधिकार है.

  • ग्राहक के अनुरोध पर ब्याज प्रमाणपत्र उपलब्ध है.
  • ग्राहक को खाते का पासबुक प्रदान किया जायगा.
  • ग्राहक के अनुरोध पर आवर्ती जमाराशियों को एक शाखा से दूसरी शाखा में अंतरित किया जा सकता है.

भुगतान की प्रणाली:-

परिपक्वता प्राप्तियां (राशि) ग्राहक के बचत/ चालू खाते में जमा की जाएगी. जहां ग्राहक का कोई सक्रिय खाता नहीं है, रु. 20,000 कम की से परिपक्वता राशि नकदी में और उससे अधिक डीडी/भुगतान आदेश के माध्यम से प्रदान की जाएगी.

रु. 1,00,000/- की अधिकतम सीमा के अधीन 10 वर्ष की आयु और उससे अधिक के लिए नाबालिग खाता खोला जा सकता है.

नियमित आवर्ती जमा को बड़ौदा यथाशक्ति जमा योजना में परिवर्तित किया जा सकता है.

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top