सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी आधारभूत संरचना

बैंक ऑफ़ बड़ौदा की सूचना प्रौद्योगिकी बुनियादी व्यवस्था और सूचना प्रौद्योगिकी संचालित सेवाएं

  • बैंक की तकनीकी पहलें स्पष्ट रूप से ग्राहकों को केंद्र में रखकर शुरू हो गई है. बैंक टेक्नॉलॉजी आधारित व्यवसाय रूपांतरण कार्यक्रम कार्यान्वित कर रहा है, जिसका उद्देश्य ग्राहकों को भारत में और विदेश में ग्राहकों को 24 X 7 आधार पर सुविधायुक्त बैंकिंग प्रदान करना है. इसके लिए बैंक ने विश्वभर में एक समान कोर बैंकिंग सोल्यूशन लागू करते हुए एटीएम, इंटरनेट , फोन, मोबाइल, कियोस्क, कॉल सेंटर इत्यादि जैसे समेकित वैकल्पिक डिलीवरी चैनेल्स उपलब्ध कराए हैं

  • अन्य बैंकों की तुलना में टेक्नॉलॉजी के क्षेत्र में हमारे प्रयास कोर बैंकिंग सोल्यूशन तक सीमित नहीं हैं. उद्योगवार जनरक लेजर, जोखिम प्रबंधन, अवैध धन को बनने से रोकना, चेक ट्रंकेशन, क्रेडिट कार्डस, म्युचुअल फंडस, ऑनलाइन ट्रेडिंग, डाटा वेअरहाउसिंग, ग्राहक संबंध प्रबंधन, स्विफ्ट, आरटीजीएस, एनईएफटी, इंटरनेट पेमेंट गेटवे, ग्लोबल ट्रेजरी, मानव संसाधन प्रबंधन सिस्टम, कर्मचार पे रोल, नकदी प्रबंधन, मोबाइल बैंकिंग, एसएमएस भेजना, रिटेल डिपॉजिटरी, फोन बैंकिंग, जोखिम प्रबंधन, ज्ञान प्रबंधन इत्यादि जैसे अन्य एप्लीकेशनों का भी इसमें समावेश है, जो समेकित है सभी वर्गों के और विविध व्यवसायों से जुड़े ग्राहकों को सुखदायक सेवा का अनुभव कराते हैं.

  • ये एप्लीकेशन डाटा वेअरहाउस के माध्यम से महत्वपूर्ण प्रबंधन सूचना प्रणाली डाटा उपलब्ध कराते हैं.

  • हम उन थोड़े सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में से हैं, जिनका अपना ई पेमेंट गेटवे है जिसके माध्यम से ई –कॉमर्स सुविधाएं प्रदान की जाती है.

  • 100% सीबीएस और विविध पहलों के माध्यम से बैंक अपने ग्राहकों को सफलतापूर्वक अनूठी टेक्नॉलॉजी के साथ मानवी संपर्क- समन्वय का संबल दे पाया है.


एटीएम नेटवर्क :

  • भारत में बैंक के एटीएम का विस्तृत नेटवर्क है. एटीएम/ शाखा लोकेटर

  • भविष्य में इस नेटवर्क को चरणबद्ध रूप से बढ़ाने की बैंक की योजना है. ग्रामीण क्षेत्रों में कम लागत के एटीएम लगाने की भी बैंक की योजना है.

  • बैंक के स्कूल फीस कलेक्शन मोड्यूल प्रचलित किया है, जिसके द्वारा बैंक के एटीएम से स्कूल फीस का भुगतान किया जा सकता है.


एटीम - सह – डेबिटकार्ड :

  • बैंक के डेबिट कार्ड धारक अपना कार्ड भारत के और विश्वभर के सभी विसा एटीएम इस्तेमाल कर सकते हैं, बैंक के डेबिट कार्डस भारत के विक्री केंद्र (पीओएस) और विश्वभर के टर्मिनल्स पर स्वीकार किए जाते हैं.

  • अन्य बैंकों द्वारा जारी मास्टर कार्ड और विसा कार्ड के धारक भी हमारे बैंक के एटीएम नेटवर्क से अपने खातों के व्यवहार करते हैं.

  • बैंक के डेबिट कार्ड में कार्ड धारक के एक से अधिक खातों को जोड़ा जा सकता है. इस प्रकार एक ही डेबिट कार्ड में अनेक खातों की सुविधा प्राप्त हो सकती है.

  • ]
  • घरेलू डेबिट कार्ड में सीवीवी 2 कार्यान्वित किया गया है.
  • बैंक नेशनल फायनान्शियल स्विच (एनएफएस) का सदस्य है. इससे हमारे ग्राहक एनएफएस का इस्तेमाल अत्यलप या बिनाशुल्क उपयोग कर सकते हैं..


इंटरनेट बैंकिंग :

  • बैंक ने भारत में पूरी तरह से संव्यवहार-क्षम इंटरनेट बैंकिंग लागू कर दिया है. इस मंच के माध्यम से, ग्राहकों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष कर ऑनलाइन अदा करने, युटिलिटी बिल्स व बीमा प्रीमियम का भुगातन करने, साथ ही रेल्वे टिकट आरक्षित करने की सुविधा प्राप्त है. कॉर्पोरेटस के लिए सीधे वेतन अपलोड करने की सुविधा भी इसी में है. अधिकतर विदेशी टेरिटरिज में भी इंटरनेट बैंकिंग लागू किया गया है. ई- बैंकिंग ग्राहकों को एसएमएस अलर्ट की सुविधा दी जा रही है.

  • बड़ौदा कनेक्ट के अंर्तत ग्राहक विभिन्न घरेलू करों का भुगतान, संस्थागत शुल्क भुगतान तथा विभिन्न मंदिरों को ऑनलाइन दान कर सकते हैं.

  • हमारे ग्राहकों को फिशिंग के आक्रमण से बचाने के लिए बैंक ने ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन में अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करने के लिए टू फैक्‍टर प्रमाणीकरण सुविधा लागू की है.

  • कॉर्पोरेट और रिटेल ग्राहक यूआरएल: www.bobibanking.com पर जाकर पंजीकृत मोबाइल नंबर और ई-मेल एड्रेस का उपयोग करके इंटरनेट बैंकिंग के पासवर्ड ऑनलाइन (ग्रीन पासवर्ड कार्यक्षमता) जनरेट कर सकते हैं.


रैपिड फंडस टू इंडिया- ऑनलाइन धन अंतरण सेव

  • अनिवासी भारतीय हमारी विदेशी संयुक्त अरब अमीरात, ओमान, इंगलैंड, मॉरिशस, सेसेशेल्स, बोत्सवाना, फिजी, केन्या, गयाना, तंजानिया, युगांडा, त्रिनिदाद एंड टोबैगौ और अमेरीका की शाखाओं से हमारी भारतीय शाखाओं में रखे गए खातों में तुरंत आधार पर धन जमा करा सकते हैं. उनके खाते दूसरे बैंक की शाखाओं में होने की स्थिति में आरटीजीएस/एनईएफटी के माध्यम से प्रेषण द्वारा क्रेडिट दिया जाता है.


इंटरनेट पेमेंट गेटवे :

  • इंटरनेट पेमंट गेटवे के अंतर्गत 3डी सुरक्षित कार्यान्वयन लगभग पूरा हो गया है. इंटरनेट पेमेंट गेटवे की सहायता से ग्राहक सीधे व्यापारी संव्यवहार कर सकते हैं और बैंक के केंद्रीय एटीएम स्विच के माध्यम से सेटलमेंट होता है.


रियल टाइम ग्रास सेटलमेंट सिस्टम (आरटीजीएस) और नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनईएफटी) :

  • सभी शाखाएं आरटीजीएस और एनईएफटी में सक्षम है. आरटीजीएस और एनईएफटी का इंटरफेस हमारे इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल के साथ करा दिया गया है. इससे ग्राहक को इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करते हुए अंतर बैंक धन अंतरण की सुविधा मिलती है.


स्विफ्ट :

  • विश्वभर के अंतर बैंक वित्तीय संप्रेषण के लिए स्विफ्ट सुविधा भारत की तथा विदेशी टेरिटेरिज में विदेश विनियम के लिए प्राधिकृत शाखाओं में उपलब्ध है.


कॉर्पोरेट और रिटेल ऋण परिचालनों के लिए वेब आधारित लेडिंग प्रोसेस ऑटोमेशन :

  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने सबसे पहले वेब आधारित लेंडिंग प्रोसेस ऑटोमेशन सिस्टम कार्यान्वित किया और इसका उपयोग रिटेल ऋण परिचालनों वाली सभी शाखाओं में किया जा रहा है.


ऑनलाइनकर लेखाकरण सिस्टम (ओल्टाज) :

  • बैंक ने केंद्रीय बोर्ड ऑफ़ डायरेक्ट, भारत सरकार की तरफ से कर-संग्रहण के लिए ऑनलाइन टैक्स अकाउंटिग सिस्टम (ओल्टाज - ऑनलाइन कर लेखाकरण सिस्टम) 581 शाखाओं में कार्यान्वित किया है.


इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स डाटा इंटरचेंज (ईडीआई) :

  • बैंक की कालीग्राम शाखा, अहमदाबाद और आईसीडी, साबरमती ( सेंटर फॉर पेमेंट ऑफ कस्‍टम्‍स ड्यूटी एन्‍ड ड्यूटी ड्रॉबॅक) के बीच यह कार्यरत हो चुका है.

  • यह सिस्‍टम बैंक की नवरंगपुरा शाखा, अहमदाबाद और कस्‍टम्‍स एन्‍ड सेंटर एम्‍साइज डिपार्टमेंट, एयर कार्गो कॉम्‍प्‍लेक्‍स, अहमदाबाद में भी कार्यरत हो गई है


अंतर्राष्‍ट्रीय परिचालन :

  • बैंक की विदेशी शाखाएं, ऑफ शॉर बिजनेस युनिटस्, संयुक्‍त उद्यम और अनुषंगियां 100 % कम्‍प्‍यूटरीकृत हो चुकी हैं.

  • टेरिटरी स्तर पर 22 विदेशी टेरिटोरीज के स्‍तर पर कोर बैंकिंग कार्यान्वित किया गया है


वैश्विक ट्रेजरी :

  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा अपनी समेकित ट्रेजरी शाखा, मुंबई में ट्रेजरी और जोखिम प्रबंधन सोल्‍यूशन कार्यान्वित करनेवाला भारत का पहला सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है.

  • समेकित वैश्विक ट्रेजरी सोल्‍यूशन इंग्‍लैंड, संयुक्‍त अरब अमीरात, हांगकांग, सिंगापुर, बेल्जियम, अमेरिका, मॉरीशस, गिफ्ट सिटी अहमदाबाद और भारत में लागू किया गया है.

  • ट्रेजरी के लिए संकट से उबरने की (डिजास्‍टर रिकवरी) साइट भी कार्यरत हो गई है


बैंक का अत्याधुनिक डाटा सेंटर :

  • बैंक ने अपनी भारत की 8531 शाखाओं और अन्‍य 20 देशों की शाखाओं में, जहां बैंक कार्यरत है, अपने केंद्रीकृत बैंकिंग सॉल्‍यूशन और उसको संचालित करने के लिए अपने अत्याधुनिक डाटा सेंटर निर्मित एवं कार्यान्वित कर दिया है. डाटा सेंटर बैंक के लिए घरेलू तथा अंतर्राष्‍ट्रीय दोनों तरह के परिचालनों के लिए केंद्रीय हब के रूप में कार्य करेगा. यह महत्त्वपूर्ण टेक्‍नोलॉजी मानकों के अनुरूप है और पूरी तरह से संपर्क – संप्रेषण और नेटवर्क बुनियादी व्‍यवस्‍था से लैस है, जो टियर III डाटा सेंटर की सभी विशेषताओं को पूरा करता है.

  • डिजास्‍टर रिकवरी साइट (डीआरएस) डाटा सेंटर की हूबहू प्रतिकृति है, जो पूरी तरह से कार्यरत हो चुकी है.

  • बैंक ने डाटा की “नियर रियल टाइम” “प्रतिकृति बनाने के लिए” “नियर डाटा सेंटर” की स्थापना की है, जिससे डाटा के किसी भी तरह के नुकसान को टाला जा सकेगा.


हरित पहल :

बैक के नये डाटा सेंटर के डिजाइन में पर्यावरण के अनुकूल (हरित पहल) सिस्टम्स और टेक्नॉलॉजी को अपनाया है :

  • ऊर्जा कार्यक्षम इलेक्ट्रिकल और एचवीएसी डिजाइन
  • पर्यावरण के लिए अनुकूल निर्माण सामग्री
  • चिलर आधारित एचवीएसी
  • तापमान देखरेख
  • प्रज्ञावान इमारत प्रबंधन सॉफ्टवेयर
  • उच्च कार्यक्षमता प्रिसिजन एयर कंडिशनिंग युनिटस

बैंक का अंतिम उद्देश्य अपने आपको उच्च टेक्नॉलॉजी सक्षम बैंक के रूप में पुनः तैयार करना और ग्राहकों की पहली पसंद का बैंक बनते हुए विश्व बाजार में प्रत्येक मापदंड पर अग्रणी के रूप में उभरना है..


वाइड एरिया नेटवर्क – शाखाओं का, प्रशासनिक कार्यलयों का और विदेशी टेरिटोरिज का नेटवर्किंग :

  • भारत की और विदेश की सभी शाखाएं, प्रशासनिक कार्यालय, प्रशिक्षण केंद्र, निरीक्षण केंद्र का और विदेशी टेरिटोरिज का नेटवर्किंग लीज लाइंस, आईएसडीएन, वी सैट के द्वारा किया गया है, जिससे सीबीएस के तहत बहुविध एप्लीकेशंस पर्याप्त रिडंडंसी और उच्च अप टाइम के साथ अच्छी तरह से संचालित होते हैं.

कॉर्पोरेट इंट्रानेट और ई- मेल :

  • इलेक्ट्रॉनिक संप्रेषण, सूचना का आदान-प्रदान करने और ज्ञान प्रबंधन के लिए वेब आधारित कॉरेपोरेट इंट्रानेट और ई - मेल पूर्ण रूप से कार्यरत है.

एचआरएनएस एंड पे रोल :

  • बैंक ने कर्मचारी सेवा मानव संसाधन नेटवर्किंग कार्यान्वित किया है. जिसका उद्देश्य अपने कर्मचारियों का केंद्रीय डाटाबेस बनाना है. इससे इस क्षेत्र में निर्णय लेने में, पदोन्नति और चयन प्रकिया में आसानी होगी, साथ ही मानव संसाधन प्रकियाओं का ऑटोमेशन हो जाएगा.

  • पे रोल, वेतन मॉड्यूल, ई- टीडीएस मोड्यूल सभी देशी कार्यालयों के लिए कार्यान्वित किए गए है. जहां कर्मचारियों को सेल्फ सर्विस के क्रियाकलाप की सुविधा दी गई है वहां छुट्टी का मोड्यूल भी कार्यान्वित किया गया है.


बड़ौदा नकदी प्रबंधन सेवाएं (डिजीनेक्‍स्‍ट)

  • बैंक ने कॉर्पोरेट ग्राहकों की सुविधा के लिए भारत में पूर्ण लेनदेन-सक्षम सीएमएस सुविधा शुरू की है. इस प्‍लैटफॉर्म के माध्यम से, कॉर्पोरेट ग्राहकों के पास एनईएफटी / आरटीजीएस / आईएमपीएस / आईएफटी के माध्यम से थोक भुगतान शुरू करने तथा डीडीआई / एनएसीएच / कैश / चैक / डीडी प्रिंटिंग के माध्यम से निधि संग्रहण करने की सुविधा प्रदान की है. बीसीएमएस ग्राहक की आवश्यकताओं के अनुसार उनके विविध / बच्‍चों के खातों में स्वीपिंग और फंडिंग द्वारा चलनिधि सुविधा भी प्रदान करता है. कॉरपोरेट्स के पास सीधे वेतन अपलोड करने की भी सुविधा है.

  • बीसीएमएस ग्राहक प्लेटफॉर्म के साथ एकीकरण के माध्यम से लेनदेन शुरू करने के लिए होस्ट टू होस्ट सुविधा भी प्रदान करता है.

  • कॉर्पोरेट ग्राहक भी शाखाओं और सीएमएस हब के माध्यम से बीसीएमएस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं.

  • ग्राहक वेब पोर्टल के माध्यम से भी बीसीएमएस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं (यूआरएल : www.barodadiginext.com). अपने ग्राहकों को फ़िशिंग हमलों से बचाने के लिए, बैंक ने ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन में अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करने के लिए टू फैक्‍टर प्रमाणीकरण फिचर प्रदान किया है. प्रत्येक गतिविधि के लिए एसएमएस अलर्ट प्रदान करने वाला वेब एप्लिकेशन. प्राधिकरण मैट्रिक्स सुविधा वाला सीएमएस वेब एप्लिकेशन.


सूचना सुरक्षा :

  • ग्राहक वेब पोर्टल के माध्यम से भी बीसीएमएस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं (यूआरएल : www.barodadiginext.com). अपने ग्राहकों को फ़िशिंग हमलों से बचाने के लिए, बैंक ने ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन में अतिरिक्त सुरक्षा प्रदान करने के लिए टू फैक्‍टर प्रमाणीकरण फिचर प्रदान किया है. प्रत्येक गतिविधि के लिए एसएमएस अलर्ट प्रदान करने वाला वेब एप्लिकेशन. प्राधिकरण मैट्रिक्स सुविधा वाला सीएमएस वेब एप्लिकेशन.

  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने अपने सूचना प्रौद्योगिकी संसाधनों की गोपनीयता, समेकन और उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए पुख्ता सूचना सुरक्षा प्रबंधन व्यवस्था कायम की है. फायरवॉल, एनआईपीएस, नियमित पैच अपडेशन, एंटी वायरस और एंटी स्पायवेयर, सेंट्रलाइज्ड डोमेन नियंत्रण, एप्लीकेशन सुरक्षा, डाटाबेस सुरक्षा, फिजिकल एंड लॉजिकल एक्सेस नियंत्रण उपायों के साथ बहस्तरीय सुरक्षा स्थापित की गई है.

  • बैंक के पास सूचना प्रौद्योगिकी के लिए अद्यतन सुरक्षा नीति, मानक और मार्गनिर्देश हैं, जो लगातार उभरते खतरे के परिवेश में सावधानी के उपाय अपनाने के लिए बनाए गए हैं. अपने ग्राहकों को सुरक्षित टेक्नॉलॉजी संचालित सेवाएं देने के बैंक के प्रयासों का ही भाग है. इंटरनेट बैंकिंग के लिए 128 बिट वेरीसाइन एसएसएम प्रमाणपत्र कार्यान्वित किया गया है जिससे इंटरनेट पर ग्राहकों का डाटा एनक्रिप्डेड रूप में प्रेषित होगा. जालसाजीपूर्ण निधि अंतरण को रोकने के लिए इंटरनेट बैंकिंग में अन्य पक्ष को निधि अंतरण के लिए लाभार्थी का पंजीकरण अनिवार्य बना दिया है.

“व्यवसाय वृद्धि और लाभ प्रदता के लिए टेक्नॉलॉजी का आश्रय”

टेक्नॉलॉजी बैंक का अविभाज्य हिस्सा है. ग्राहक तक पहुंचने और उसे हमारे साथ करने तक तथा उसकी सेवा से उसके परितोष तक बैंक टेक्नॉलॉजी पर निर्भर करते हैं. लागत की दृष्टि से बैंक के रोजाना परिचालन किफायती बनाने के लिए टेक्नॉलॉजी का लाभ लेना अत्यंत आवश्यक है. इसे हासिल करने के लिए बैंक ने मैकेंजी एंड कं की सेवाएं प्राप्त की हैं. यह कंपनी बैंक को व्यवसाय कार्यप्रणाली की पुनर्संरचना और संगठनात्मक पुनर्गठन में सलाह देगी, ताकि शाखाएं अपना अधिकतम समय बिक्री और मार्केटिंग की गतिविधियों पर दे सकें और नये सिरे से प्राप्त व्यवसाय को प्रभावी तरीके से संभाल सकें. बैंक का नया सुदृढ़ टेक्नॉलॉजी मंच समृद्ध प्रबंधन सूचना व्यवस्था के पर्यवेक्षण और नियंत्रण तथा इसे बनाने में सहायक होगा जिससे व्यावसायिक निर्णय प्रकिया में मदद मिलेगी.

Add this website to home screen

Are you Bank of Baroda Customer?

This is to inform you that by clicking on continue, you will be leaving our website and entering the website/Microsite operated by Insurance tie up partner. This link is provided on our Bank’s website for customer convenience and Bank of Baroda does not own or control of this website, and is not responsible for its contents. The Website/Microsite is fully owned & Maintained by Insurance tie up partner.


The use of any of the Insurance’s tie up partners website is subject to the terms of use and other terms and guidelines, if any, contained within tie up partners website.


Proceed to the website


Thank you for visiting www.bankofbaroda.in

X
We use cookies (and similar tools) to enhance your experience on our website. To learn more on our cookie policy, Privacy Policy and Terms & Conditions please click here. By continuing to browse this website, you consent to our use of cookies and agree to the Privacy Policy and Terms & Conditions.