Enjoy Banking on the Go.
Download Mobile Banking App

Download
Banner

कोविड-19 की दूसरी लहर से प्रभावित मौजूदा बीकेसीसी एवं बीएएचएफकेसीसी ऋणकर्ताओं के लिए

कोविड-19 की दूसरी लहर से प्रभावित मौजूदा बीकेसीसी एवं बीएएचएफकेसीसी ऋणकर्ताओं के लिए बड़ौदा स्पेशल स्कीम

उद्देश्य कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के कारण प्रभावित कृषि एवं संबद्ध घरेलू उद्देश्य के लिए आकस्मिक रूप से निधि आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए कृषक समुदाय को तत्काल ऋण.
पात्रता वैयक्तिक किसान/ संयुक्त ऋणकर्ता जो हमारे मौजूदा बड़ौदा किसान क्रेडिट कार्ड (बीकेसीसी तथा बीएएचएफकेसीसी) धारक है, जिनका चुकौति का ट्रैक रिकॉर्ड संतोषजनक है और उनके बीकेसीसी एवं बीएएचएफकेसीसी खाते दिनांक 31.3.2021 को मानक श्रेणी के रूप में वर्गीकृत किए गए है.
ऋण का प्रकार मांग ऋण ब्याज सहित 3 वर्षों में चुकौति योग्य
सीमा बीकेसीसी एवं बीएएचएफकेसीसी खाते में मौजूदा डीपी के 10% तक
मार्जिन शून्य
चुकौति आय सृजन एवं फसल के पैटर्न के आधार पर अर्ध वार्षिक /वार्षिक किस्तें.
ब्याज दर 1वर्ष एमसीएलआर + एसपी अर्थात 7.40+ 0.25= 7.65 % (वर्तमान में)
प्रतिभूति
  • फसलों का दृष्टिबंधक
  • रु.1.60 लाख तक कोई संपार्श्विक प्रतिभूति नहीं
योजना की वैधता यह योजना दिनांक 30.09.2021 तक प्रभावी रहेगी.
अन्य विशेष स्थिति
  • प्रस्तावित अतिरिक्त वित्तपोषण केवल मौजूदा उधारकर्ताओं को उपलब्ध कराया जाएगा, जिनके खाते में कोई अतिदेय नहीं है.
  • यह सुविधा कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर से विशेष रूप से प्रभावित हुए ऋणकर्ताओं द्वारा अपने अनुरोध में विशेष रूप से उन पर प्रभावों को दर्शाए जाने पर उपलब्ध कराई जानी है.
  • संयुक्त सीमा के रु1.60 लाख से अधिक होने पर सूचीबद्ध एडवोकेट से पीसीआर प्राप्त किया जाएगा.
  • मौजूदा ग्राहक जिन्होंने पिछले वर्ष के दौरान कोविड-19 से प्रभावित मौजूदा बीकेसीसी ऋणकर्ताओं के लिए बड़ौदा स्पेशल स्कीम के तहत ऋण सुविधा का लाभ उठाया है, वह इस योजना के अंतर्गत तब तक पात्र नहीं होंगे जब तक कि पिछले वर्ष के दौरान कोविड-19 योजना के तहत लिए गए ऋण की बकाया राशि का भुगतान कर दिया हो.

अंतिम देखा गया पेज

X
Back to Top